मन

आज मन इतना क्यों अशांत हो रहा,

क्या है वो विचार जो इसमें बह रहा ,

शुन्य हल वाली समीकरण है शायद,

जिसके संयोग में अनगिनत संचार हो रहा । 

Read More »

लड़की ———- बहु या बेटी ?

आज ज़ेहन में फिर से एक सवाल उठा है,

प्रश्न बड़ा ही कॉमन है, पर  सोचने का नजरिया जुदा है|

“एक घर में दो लड़किया, जो साथ साथ तो रहती थी,

पहली घर के मालिक की बेटी, दूसरी बहु रुपी समुद्र में बहती थी |

Read More »