नारी व्यथा

प्रेम तुम्ही  से  किया  है  हमने , तुम संग प्रीत लगाई है,

पर क्या हश्र होता जीवन का, तुमने ये सीख सिखलाई है|

माटी का पुतला बन कर रही तो मैं एक प्यारी नारी थी,

माँगा थोड़ा स्नेह जो तुमसे, तो मैं पढ़ी लिखी गंवार नारी थी|

दिन गुजारे इंतज़ार में, समय तुम्हारी यादो में,

रात तक तुम्ही थे सोच में, सपनो में, सपनो की बातें में|

 

लम्हो का धागा बना कर, पिरो लिया आँखों के मोती को,

सूरत को सूरज – चाँद मान कर, भूल गए कुदरत की ज्योति को|

 

साथ नहीं थे जब तुम हमारे, सोचा वक़्त वो भी अच्छा था,

दो पल का अहसास था माँगा, वादा वो भी अधूरा और कच्चा था|

 

मुक्कमल आयाम की चाह में, आप (फरिश्ते) भी न अपने हुए,

दो सितारे कैसे जुड़े जब वो एक ना नभ में हुए|

 

प्यार को मेरे गुरूर बता कर, तुम ने ही दिल को थोड़ा है,

परिस्तिति को भविष्य बता बता कर, इच्छाओ को मेरी मरोड़ा है|

 

भूल ना ए खुदा के बन्दे, सीता भी ज़मी में समाई थी,

राम ना समझे तप को उस के, इसलिए जननी हिस्सों में बटवाई थी|

 

पहचान कृष्ण की राधा है, और राम की है सीता माई,

जब जब अपमान हुआ नारी का, माँ दुर्गा रूप में है आयी|

 

अब भी समय है, समझले ऐ मानव, नारी ही घर की लक्ष्मी है,

नारी ही घर की अन्नपूर्णा, नारी से सकारात्मक शक्ति है|

 

 

 

डॉ सोनल शर्मा

6 thoughts on “नारी व्यथा

  1. My spouse and i got quite happy that John could deal with his preliminary research through the ideas he grabbed out of your web page. It’s not at all simplistic to just continually be giving out points that many others have been selling. And we also fully understand we have got the website owner to be grateful to for that. The main explanations you have made, the simple site menu, the friendships you can help foster – it’s got many impressive, and it’s really helping our son and the family imagine that the matter is excellent, and that is pretty indispensable. Thank you for everything!

  2. Whoa! This blog looks exactly like my old one!
    It’s on a completely different subject but it has pretty much the same layout and design.
    Outstanding choice of colors!

Leave a Reply to hyperthyroidism vs hypothyroidism drugs Cancel reply

Your email address will not be published.